गुरु जी ने कहा है

 हमारे गुरु जी ने कहा है ----------


बनिया धन का भूखा होता है।

क्षत्रिय खून का प्यासा होता है।

दलित अन्न का भूखा होता है।

पर ब्राम्हण?

साहब ब्राम्हण सम्मान का भूखा होता है।

ब्राम्हण को सम्मान दे दो वो तुम्हारे लिऐ

जान देने को तैयार हो जाऐगा।

अरे दुनिया वालो आजमाकर

तो देखो हमारी दोस्ती को।


मुसलमान अशफाक उल्ला खान बनकर हाथ

बढ़ाता है,हम बिस्मिल बनकर गले लगा लेते है।


क्षत्रिय चंद्रगुप्त बनकर पैर छू लेता है,हम

चाणक्य बनकर पूरा भारत जितवा देते है।


सिख भगत सिह बनकर हमारे पास आता है।

हम चंद्रशेखर आजाद बनकर उसे बेखौफ

जीना सिखा देते है।


कोई वैश्य गाधी बनकर हमे गुरु मान लेता है हम

गोपाल कृष्ण गोखले बनकर उसे

महात्मा बना देते है।


और

कोई शूद्र शबरी बनकर हमसे वर मागता है,

तो हम उसे भगवान से मिलवा देते है।

अरे एक बार सम्मान तो देकर देखो हमें...........

........ फर्ज न अदा करे तो कहना


--  पुराणों में कहा गया है - 


     विप्राणां यत्र पूज्यंते रमन्ते तत्र देवता ।


  जिस स्थान पर ब्राह्मणों का पूजन हो वंहा देवता भी निवास करते हैं अन्यथा ब्राह्मणों के सम्मान के बिना देवालय भी शून्य हो जाते हैं । इसलिए


   ब्राह्मणातिक्रमो नास्ति विप्रा वेद विवर्जिताः ।।


  श्री कृष्ण ने कहा - ब्राह्मण यदि वेद से हीन भी तब पर भी उसका अपमान नही करना चाहिए । क्योंकि तुलसी का पत्ता क्या छोटा क्या बड़ा वह हर अवस्था में कल्याण ही करता है ।

 

  ब्राह्मणोंस्य मुखमासिद्......


   वेदों ने कहा है की ब्राह्मण विराट पुरुष भगवान के मुख में निवास करते हैं इनके मुख से निकले हर शब्द भगवान का ही शब्द है, जैसा की स्वयं भगवान् ने कहा है की

 

   विप्र प्रसादात् धरणी धरोहम 

   विप्र प्रसादात् कमला वरोहम

   विप्र प्रसादात्अजिता$जितोहम

   विप्र प्रसादात् मम् राम नामम् ।।


   ब्राह्मणों के आशीर्वाद से ही मैंने धरती को धारण कर रखा है अन्यथा इतना भार कोई अन्य पुरुष कैसे उठा सकता है, इन्ही के आशीर्वाद से नारायण हो कर मैंने लक्ष्मी को वरदान में प्राप्त किया है, इन्ही के आशीर्वाद से मैं हर युद्ध भी जीत गया और ब्राह्मणों के आशीर्वाद से ही मेरा नाम "राम" अमर हुआ है, अतः ब्राह्मण सर्व पूज्यनीय है । और ब्राह्मणों का अपमान ही कलियुग में पाप की वृद्धि का मुख्य कारण है ।


  - किसी में कमी निकालने की अपेक्षा किसी में से कमी निकालना ही ब्राह्मण का धर्म है,  


              

समस्त ब्राह्मण सम्प्रदाय को समर्पित🙏🙏🙏🙏🙏


*****************

जय दादा परशुराम 

*****************

इसे भी पढ़े : Step to success 🏆💪



Politics : Delhi people super ideal role in present election


Read Article

Politics : CM केजरीवाल का हुआ कोरोना टेस्ट


Read Article

Politics : Ashok Gehlot says BJP offering Rs 25 crore to MLAs, Rajasthan Congress moves MLAs to resort: 10 points


Read Article

Politics : चाईना की चीजों का बहिष्कार करें


Read Article

Politics : लद्दाख में पीएम


Read Article

Goal24.in is a product of RSG Trade & Services (OPC) Pvt. Ltd.

Success motivational stories, motivational business success stories ,real life inspirational stories,true story,moral stories

© Goal24.in, 2020 | All Rights Reserved | Privacy Policy | About Us | Contact Us